सर्वे में आकड़ों से हुआ खुलासा, बेरोजगारी की दर में आई कमी

उत्तराखंड : 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले बेरोजगारी पर जारी सियासत के बीच CMIE की रिपोर्ट आई है।  इस रिपोर्ट में उत्तराखंड राज्य में बेरोजगारी की दर में काफी कमी आने का दावा किया गया है। CMIE सर्वे के ऑनलाइन आंकड़ों के मुताबिक, पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश, हिमाचल, पंजाब, हरियाणा समेत 17 राज्यों में बेरोजगारी उत्तराखंड से अधिक है। आईए एक नजर डालते हैं, उत्तराखंड में दो सालों में माह वार बेरोजगारी प्रतिशत दर पर।

दो वर्षों में माह वार बेरोजगारी प्रतिशत दर

महीना 2020 2021
जनवरी 5.5 4.5
फरवरी 5.0 4.7
मार्च 19.9 3.3
अप्रैल 6.5 6.0
मई 8.0 5.5
जून 8.6 4.8
जुलाई 12.4 3.2
अगस्त 14.3 6.2
सितंबर 22.3 4.1

 कांग्रेस ने भी सरकार बनने पर बेरोजगारी भत्ता देने कि कही बात

आपको बता दें कि उत्तराखंड में चुनावी साल के बीच बढ़ती बेरोजगारी को लेकर विपक्ष लगातार सरकार की घेराबंदी कर रहा है। इसी के तहत आम आदमी पार्टी रोजगार गारंटी अभियान चला रही है तो वहीं कांग्रेस ने भी सरकार बनने पर बेरोजगारी भत्ता देने की बात कही है।

कुल मिलाकर चुनावी साल में CMIE की रिपोर्ट ने सरकार से लेकर संगठन तक को खुश होने का मौका दिया है। निश्चित ही बीजेपी इन आंकड़ों को लेकर जनता के बीच जाएगी। स्वरोजगार से भी युवाओं को जुड़ने के लिए नए नए अवसर प्रदान करने का प्रयास करेंगे।