दुखद: कभी अमिताभ की बेगम रहीं फारुख जफर का हुआ निधन!

बॉलीवुड की दिग्गज अदाकारों में से एक फारुख जफर ने 89 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया. फारुख जफर को सुलतान और गुलाबो सिताबो में उनके शानदार अभिनय के लिए जाना जाता है।इस बात की खबर उनके पोते ने दी। पोते ने बताया कि शुक्रवार, 15 अक्टूबर को लखनऊ में ब्रेन स्ट्रोक आने के बाद फारुख जफर ने अपनी अंतिम सांस ली। फारुख जफर के निधन की खबर उनके पोते शाज अहमद ने ट्विटर के जरिए शेयर की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मेरी दादी और स्वतंत्रता सेनानी की पत्नी पूर्व एमएलसी वरिष्ठ अभिनेत्री फारुख जफर का आज शाम 7 बजे लखनऊ में निधन हो गया.’

फातिमा बेगम की निभाई थी भूमिका

फारुख को कुछ समय पहले फिल्म गुलाबो सिताबो में देखा गया था। इस फिल्म में उन्होंने फातिमा बेगम की भूमिका निभाई थी। फातिमा बेगम, अमिताभ बच्चन के किरदार मिर्जा की पत्नी थीं, जो 95 की उम्र में अपनी हवेली को बचाने के लिए अपने पुराने आशिक के साथ भाग जाती है।

स्क्रीन राइटर जूही चतुर्वेदी चतुर्वेदी ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर फारुख जफर के लिए शोक व्यक्त करते हुए लिखा, ”बेगम गईं. ना आप जैसा कोई था और ना होगा. आपका दिल से शुक्रिया जो आपने हमको अपने से रिश्ता जोड़ने की इजाजत दी. अब अल्लाह की दुनिया में हिफाजत से रहिएगा.”

इन प्रोजेक्ट्स में फारुख ने किया था काम

फारुख जफर ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1981 में आई फिल्म उमराव जान से की थी। इस फिल्म में उन्होंने रेखा की मां की भूमिका निभाई थी। उसके बाद 2004 में उन्होंने दूसरी फिल्म स्वदेश में काम किया। फिर पीपली लाइव, चक्रव्यूह, सुल्तान और तनु वेड्स मनु में नजर आईं। 2019 में उन्होंने नारायण चौहान की ‘अम्मा की बोली’ में मुख्य भूमिका निभाई. गुलाबो सिताबो समेत करीब एक दर्जन फिल्मों में काम करने वाली फारुख जफर को 88 साल की उम्र में बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला था. फारुख जफर की शॉर्ट फिल्में मेहरून्निसा, रक्स, कुंदन, नंदी अभी रिलीज रिलीज होनी बाकी हैं