iPhone 13 खरीदने के लिए करना होगा आपको लंबा इंतज़ार, जाने क्यों कंपनी नहीं बना पा रही फोन

iPhone 13 सीरीज को Apple ने हाल ही में वैश्विक स्तर पर लॉन्च किया था। जिसके बाद ये उम्मीद लगाई जा रही थी कि, फोन इस साल के अंत तक बड़ी मात्रा में सेल होगी। लेकिन हाल ही में, दुनिया भर की कई अन्य कंपनियों की तरह, Apple को भी वैश्विक चिप की कमी के कारण प्रोडक्शन इश्यूज का सामना करना पड़ रहा है। Apple चिप की कमी के कारण अपनी iPhone 13 सीरीज के प्रोडक्शन में 10 मिलियन यूनिट की कटौती कर रहा है।

iPhone 13 के प्रोडक्शन में समस्या


Apple को 2021 के अंत तक 90 मिलियन iPhone 13 यूनिट्स का प्रोडक्शन करने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि Apple के मैन्युफैक्चरिंग पार्टनर्स ने उन्हें सूचित किया है कि चिप की कमी के कारण कुल प्रोडक्शन बहुत कम हो सकता है। Apple ने इस परेशानी की वजह से 10 मिलियन यूनिट (लगभग 11 प्रतिशत) तक का प्रोडक्शन घटा दिया है।

लैपटॉप के प्रोडक्शन में भी हो सकती है मुश्किल

जबकि iPhone 13 सीरीज पर प्राथमिक A15 बायोनिक चिपसेट TSMC द्वारा निर्मित है, बहुत सारे अन्य चिप-आधारित Constituent हैं, जो अन्य सोर्स से आते हैं। Apple 13 मॉडल ब्रॉडकॉम AFEM-8215 फ्रंट-एंड मॉड्यूल और एक ब्रॉडकॉम BCM59365 वायरलेस पावर रिसीवर का उपयोग करते हैं, डिस्प्ले पावर मैनेजमेंट IC, एरे ड्राइवर, फ्लैश एलईडी ड्राइवर और डुअल रिपीटर टेक्सास इंस्ट्रूमेंट्स के यहां से आते हैं। ऐप्पल के नए मैकबुक प्रो के आने वाले लॉन्च के साथ, ऐप्पल को उन लैपटॉप के प्रोडक्शन में भी मुश्किल हो सकती है। हाल ही में, रिसर्चर मिंग-ची कू ने कहा था कि ऐप्पल अपने मैकबुक शिपमेंट को Constituent की कमी के कारण आधा कर देगा।

सप्लाई इशू पर Apple का बयान

Apple के सीईओ टिम कुक ने पहले ही कंपनी के Q3 अर्निंग कॉल पर कहा था कि भविष्य में चिप की कमी दिखाई दे सकती है, जिसमें कहा गया है कि “हम जो भी परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं, उसे कम करने के लिए हम सब कुछ करेंगे।” लेकिन ऐसा लगता है कि Apple के बेस्ट एफर्ट के बाद भी, उसे अपने iPhones के प्रोडक्शन को बढ़ाने के लिए पर्याप्त फिजिकल यूनिट्स नहीं मिल पा रही हैं।