26 जुलाई आज ही वो दिन है जब भारत ने कारगिल युद्ध जीता था

26 जुलाई 1999 का वो दिन जब कारगिल युद्ध में भारत को विजय मिली थी, इस वजह से हर साल 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है 1999 में करगिल की पहाड़ियों पर पाकिस्तानी घुसपैठियों ने कब्जा जमा लिया था, जिसके बाद भारतीय सेना ने उनके खिलाफ ऑपरेशन विजय चलाया ऑपरेशन विजय 8 मई से शुरू होकर 26 जुलाई तक चला कारगिल विजय दिवस स्वतंत्र भारत के सभी देशवासियों के लिए एक बेहद महत्वपूर्ण दिवस है

1971 के भारत-पाक युद्ध के बाद भी चलता रहा सैन्य संघर्ष

1971 के भारत-पाक युद्ध के बाद भी कई दिनों तक सैन्य संघर्ष होता रहा इतिहास के मुताबित दोनों देशों द्वारा परमाणु परीक्षण के कारण तनाव और बढ़ गया था स्थिति को शांत करने के लिए दोनों देशों ने फरवरी 1999 में लाहौर में घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किए जिसमें कश्मीर मुद्दे को द्विपक्षीय वार्ता द्वारा शांतिपूर्ण ढंग से हल करने का वादा किया गया था लेकिन पाकिस्तान अपने सैनिकों और अर्ध-सैनिक बलों को छिपाकर नियंत्रण रेखा के पार भेजने लगा

शुरु में इसे घुसपैठ मान लिया गया था  

प्रारम्भ में इसे घुसपैठ मान लिया गया था और दावा किया गया कि इन्हें कुछ ही दिनों में बाहर कर दिया जाएगा लेकिन नियंत्रण रेखा में खोज के बाद और इन घुसपैठियों के नियोजित रणनीति में अंतर का पता चलने के बाद भारतीय सेना को अहसास हो गया कि हमले की योजना बहुत बड़े पैमाने पर बनाई गई है

 

यह दिन शहीदों को याद कर उनको श्रद्ध-सुमन अर्पण करने का है  

यह दिन है उन शहीदों को याद कर अपने श्रद्धा-सुमन अर्पण करने का है, जो हँसते-हँसते मातृभूमि की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए यह दिन समर्पित है उन्हें, जिन्होंने अपना आज हमारे कल के लिए बलिदान कर दिया था

शहीदों को मिला परवीर चक्र का सम्मान

शहीदों को मिला परवीर चक्र का सम्मान कैप्टन विक्रम बत्रा को परमवीर चक्र से नवाजा गया पाकिस्तान ने भी बत्रा की बहादुरी को सराहा था पाकिस्तान ने उन्हें शेरशाह के नाम से नवाजा था इस बहादुर ने अकेले ही कई शत्रुओं को ढेर किया था

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *