जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की जिम्मेदारी, 50 साल के लीज़ पर अडानी ग्रुप ने ली

जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नियंत्रण भी अडानी समूह (Adani Group) को मिल गया है. अडानी समूह ने सोमवार से इस एयरपोर्ट का नियंत्रण एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) से हासिल किया।

सरकार ने अडानी समूह को 50 साल के लिए यह एयरपोर्ट लीज पर दिया है। एयरपोर्ट के डायरेक्टर जेएस बलहाराने सोमवार को अडानी जयपुर इंटरनेशनल लिमिटेड के चीफ एयरपोर्ट ऑफिसर विष्णु झा को एयरपोर्ट की प्रतीकात्मक चाबी सौंपी।

एविएशन सेक्टर में पकड़ मजबूत

 

अडानी ग्रुप के पास छह एयरपोर्ट पहले से ही हैं और इसके साथ ही उसके नियंत्रण में अब सातवां एयरपोर्ट आ गया है। अरबपति कारोबारी गौतम अडानी के Adani Group ने गत जुलाई महीने में ही मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट का टेकओवर पूरा किया है। अडानी ग्रुप बीते कुछ सालों से एविएशन सेक्टर में अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है।

अफसरों के तबादले, अथॉरिटी के 167 कर्मचारी तैनात रहेंगे

अभी एयरपोर्ट अथॉरिटी के लगभग 167 कर्मचारी तैनात रहेंगे। एमओयू के मुताबिक अधिकतम 3 साल तक साथ कार्य कर सकेंगे। डीजीएम और उच्च रैंक के अफसरों के अन्यत्र तबादले किए गए हैं। दिसंबर तक निदेशक जेएस बलहारा का भी तबादला होगा। अथॉरिटी उन्हें देश में किसी भी एयरपोर्ट अथॉरिटी कार्यालय भेज सकेगी। गौरतलब है कि अडानी समूह एयरपोर्ट अथॉरिटी को 174 रुपए प्रति घरेलू यात्री और 348 रुपए प्रति अंतरराष्ट्रीय यात्री की दर से भुगतान करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *