होने वाले विधानसभा चुनाव में, अपनाए जा रहे तमाम हत्कंडे

उत्तराखंड : अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तमाम दल तैयारियों में जुटे हैं। साथ ही संगठन का विस्तार भी कर रहे हैं। चुनाव से पहले राज्य में दलबदल भी शुरू हो गया है। इसमें अधिकांश बड़े नाम बीजेपी से जुड़ते जा रहे हैं। पहले निर्दलीय धनौल्टी विधायक प्रीतम सिंह पंवार, फिर कांग्रेस विधायक राजकुमार और अब भीमताल से निर्दलीय विधायक राम सिंह कैड़ा ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया है इसके साथ ही कई अन्य नेता भी आप और कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हो रहे हैं। इन सबके बीच आए वोटरों के सर्वे में उत्तराखंड में एक बार फिर कमल खिलने का दावा किया जा रहा है।

अपनाए जा रहे तमाम हत्कंडे

समय बीतने के साथ ही उत्तराखंड में चुनाव का समय नजदीक आ रहा है चुनाव से पहले तमाम हत्कंडे तमाम राजनीतिक दलों की ओर से अपनाए जा रहे हैं। इसी के तहत तमाम राजनीतिक दलों की नजर अपने पाले में असंतुष्ठ और निर्दलीय विधायकों को लाने की है। जिसमें उत्तराखंड बीजेपी अन्य दलों से काफी आगे निकलती हुई नजर आ रही है। तमाम परिस्थितियों को देखते हुए बीजेपी 2022 में अपनी जीत के लिए काफी आश्वस्त है।

जनता महंगाई, बेरोजगारी से है परेशान

ऐसा नहीं है कि अन्य दलों में लोगों के आने का सिलसिला जारी नहीं है। लेकिन बड़े चेहरे और बड़े नाम को लाने में आप और कांग्रेस फिल्हाल पिछड़ते हुए ही नजर आ रहे हैं। हांलाकि आप और कांग्रेस का मानना है कि तमाम परिस्थितियां बीजेपी के विरूद्ध है। जनता महंगाई, बेरोजगारी से परेशान है, जिसको देखते हुए जनता 2022 में बीजेपी को सबक सिखाने वाली है।