लौट आया अमेजन प्राइम का 129 रुपये वाला मंथली सब्सक्रिप्शन, जाने कौन कर सकता है इसका इस्तेमाल

अब Amazon Prime Video तीन अलग-अलग सब्सक्रिप्शन मॉडल में उपलब्ध है। पहला एक महीने की वैधता वाला, जिसकी कीमत 129 रुपये है। दूसरा 3 महीने की वैधता वाला, जिसकी कीमत 329 रुपये है। वहीं तीसरा 1 साल की वैधता वाला, जिसकी कीमत 999 रुपये है।

ई-मैंडेट गाइडलाइंस का पालन नहीं किया है तो…

Amazon Prime Video के 129 रुपये वाले मंथली प्लान को सिर्फ कुछ चयनित डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के जरिए खरीद सकते हैं। अगर किसी या सभी बैंकों के ग्राहक, जिन्होंने RBI के ई-मैंडेट गाइडलाइंस का पालन नहीं किया है तो वह मंथली प्लान को खरीद नहीं सकते हैं। नए नियम के चलते अब रेकरिंग पेमेंट ट्रांजेक्शन को पूरा करने के लिए ऑथेंटिकेशन के एक फैक्टर की डिमांड करते हैं।

अमेजन के टर्म्स एंड कंडीशन

अमेजन के टर्म्स एंड कंडीशन पेज के अनुसार, 129 रुपए मंथली प्राइम मेंबरशिप केवल उन्हीं बैंकों के माध्यम से खरीदी जा सकती है जिन्होंने आरबीआई के ई-मैंडेट दिशानिर्देशों का अनुपालन किया है। सभी बैंक जिन्होंने परिवर्तनों का अनुपालन नहीं किया है, वे ऑटोमेटेड पेमेंट के किसी भी अनुरोध को प्रोसेस करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। अनजान लोगों के लिए, नया नियम रिकरिंग ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की प्रोसेसिंग करने के लिए एडिशनल फैक्टर ऑफ ऑथेंटिकेशन (AFA) को लागू करने के लिए कहता है। RBI की नई गाइडलाइन्स के कारण, अमेजन ने अगले नोटिस तक अमेजन प्राइम के फ्री ट्रायल के लिए न्यू मेंबर साइन-अप को भी बंद कर दिया था। वह परिवर्तन अभी भी प्रभाव में है।

क्या कहता है RBI का नया नियम

 

आरबीआई का नया जनादेश बैंकों को 5,000 रुपये तक के रिकरिंग ट्रांजेक्शन के लिए वन-टाइम AFA लागू करने के लिए कहता है। उस कट-ऑफ से ऊपर के ट्रांजेक्शन के लिए प्रत्येक भुगतान के लिए AFA की आवश्यकता होगी। नए दिशा-निर्देश पहली बार 2019 में पेश किए गए थे ताकि उपभोक्ताओं को अपने कार्ड पर अनावश्यक रिकरिंग पेमेंट करने से रोका जा सके। कई देरी के बाद आखिरकार यह ढांचा 1 अक्टूबर को लागू हुआ।