पंचायत घर पर आयुर्वेदिक अस्पताल का कब्जा, ग्राम प्रधान परेशान!

पंचायत घर को ही बना दिया अस्पताल

बलिया- जनपद के एक पंचायत को आयुर्वेदिक अस्पताल का कब्जा होने के चलते पंचायत सबंधी कार्यों को लेकर ग्राम प्रधान को परेशानी हो रही है, और वो इसे खाली कराने की माँग कर रहे हैं। मामला दरअसल जनपद की ही बांसडीह तहसील के गाँव सुल्तानपुर गाँव का है, जहाँ पर बने पंचायत भवन पर वर्षों से आयुर्वेदिक अस्पताल का कब्जा है। इसके चलते न सिर्फ ग्राम प्रधान बल्कि ग्राम पंचायत में आने वाली तमाम जनता को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, तो वहीं जो थोड़े बहुत लोग आते भी हैं उन्हें मरीजों के तीमारदारों के शोरगुल की वजह से परेशानी होती है।

प्रधान की माँग, स्थितियाँ सुधारी जायें नहीं तो आंदोलन

पंचायत भवन को लेकर परेशानी का सामना कर रहे वर्तमान प्रधान सुग्रीव यादव का कहना है कि लम्बे समय से चल रही इस जनसमस्या को लेकर प्रधान ने कोई रूचि नहीं दिखाई, जिसके चलते आज तक यह समस्या बनी हुई है वहीं नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान ने मीडिया को दी गई जानकारी में कहा कि इस मामले को लेकर हमने ब्लॉक स्तर से लेकर तहसील तक आवाज उठाई है। पंचायत भवन को लेकर सरकारी जमीन भी चिन्हित कर ली गई है लेकिन समस्या का अब तक स्थाई समाधान नही हो सका है। उन्होने यह भी कहा कि अगर पंचायत भवन से जिला आयुर्वेदिक कार्यालय को अलग  न किया गया तो हम लोग आंदोलन करने को बाध्य होंगे।