कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश भी नहीं बचेगा !

कन्हैया कुमार मंगलवार को कांग्रेस में शामिल हो गए, लेकिन जिग्नेश मेवानी अभी शामिल नहीं हुए हैं, उन्होंने कहा कि वे वैचारिक रूप से कांग्रेस के साथ हैं, देशभर में कांग्रेस के लिए काम करेंगे। कन्हैया कुमार ने कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल व रणदीप सुरजेवाला की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली।

कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश भी नहीं बचेगा

कन्हैया कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक बड़े जहाज की तरह है, अगर इसे बचाया जाता है, तो मेरा मानना है कि कई लोगों की आकांक्षाएं, महात्मा गांधी की एकता, भगत सिंह की हिम्मत और बीआर अंबेडकर के समानता के विचार की भी रक्षा की जाएगी. इसलिए शामिल हुआ हूं। कन्हैया कुमार ने कहा कि कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश भी नहीं बचेगा और ऐसे में वह लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए कांग्रेस में शामिल हुए हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि देश में वैचारिक संघर्ष को कांग्रेस ही नेतृत्व ही दे सकती है।

क्या बोले जिग्नेश मेवाणी ?

कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे गुजरात के निर्दलीय विधायक मेवानी ने कहा-‘वैचारिक रूप से कांग्रेस में शामिल हो गया हूं, अभी औपचारिक रूप से कांग्रेस में शामिल नहीं हुआ हूं, अगला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर ही लड़ूंगा, लोकतंत्र और आइडिया आफ इंडिया को बचाने के लिए मैं ऐसी पार्टी के साथ होना चाहता हूं।