चार साल कि बच्ची कि अपहरण के बाद हत्या

अलीगढ़ के गोंडा थाना क्षेत्र के नगला बिरखु में कल गायब हुई बच्ची का शव (Dead Body) एक खेत से बरामद हुआ है। बच्ची का शव बरामद होने के बाद ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को बुलाने की मांग की लेकिन पुलिस बच्ची का शव लेकर जाने लगी। जिसके बाद ग्रामीणों की पुलिस के साथ जमकर झड़प हुई। झड़प में कुछ पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। बच्ची का नाम महक पुत्री रविंद्र सिंह है और उसकी मां का नाम राखी देवी है। बच्ची कल शाम के समय घर से गायब हुई थी। फिलहाल पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने में लगी हुई है।

ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव

नगला बिरखु की रहने वाली 4 साल की बच्ची महक कल शाम 6:00 बजे से घर से गायब थी. परिवार वालों ने उसको आस पड़ोस में और अन्य जगह पर देखा लेकिन वो कहीं नहीं मिली. आज किसी ने उसका शव धान के खेत में पड़ा हुआ देखा. बच्ची का शव मिलने की सूचना पर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए जिसके बाद पुलिस को भी सूचना दी गई. सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. इस दौरान गांव वालों ने मौके पर डीएम को बुलाने की मांग की लेकिन पुलिस बच्ची का शव लेकर जाने लगी. जिसके बाद के ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने पुलिस पर पथराव कर दिया.

जारी है मामले की गहन जांच
मामले पर अलीगढ़ के पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शुभम पटेल ने बताया 27 सितंबर को नगला बिरखु गांव थाना गोंडा अंतर्गत पुलिस को सूचना मिली कि खेत में एक बच्ची का शव मिला है। फील्ड यूनिट को बुलाकर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और साथ ही अन्य साक्ष्यों को उनको संकलित किया जा रहा है. इसमें मुकदमा पूर्व में दर्ज है, आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. मामले की गहन जांच की जा रही है।