Microsoft  ने भारत में कि फ़्यूचर रेडी टैलेंट प्रोग्राम की शुरुआत

माइक्रोसॉफ़्ट ने भारत के युवाओं को तकनीकी कुशलताओं के साथ रोज़गार के लिए तैयार कर सशक्त बनाने के लिए एआईसीटीई, नैसकॉम, ईवाई, गिटहब और क्वेस कॉर्प के साथ किया समझौता किया है,  माइक्रोसॉफ़्ट ने इन समूह को साथ लाकर फ़्यूचर रेडी टैलेंट प्रोग्राम की शुरुआत की जिसका उद्देश्य भारत के युवाओं को तकनीकी कुशलता का प्रशिक्षण देकर उन्हें सशक्त बनाना है, ताकि वे रोज़गार पाने योग्य बन सकें। आपसी सहयोग से शुरू किए गए इस इंटर्नशिप कार्यक्रम में कॉलेज के दूसरे वर्ष और इससे आगे की कक्षाओं में पढ़ाई कर रहे छात्र हिस्सा ले सकते हैं। इस प्रयास का उद्देश्य उच्च शिक्षा ले रहे 1.5 लाख से ज़्यादा छात्रों को प्रशिक्षित करना है जो 2022 से 2024 के बीच कार्यबल का हिस्सा बनेंगे।

प्रतिभाओं को देंगे अवसर
इस कार्यक्रम के अंतर्गत अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई), फ़्यूचर स्किल्स, प्राइम-ए नैसकॉम और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय डिजिटल कुशलता प्रयास, अर्न्स्टऐंडयंग (ईवाई), गिटहब और क्वेसकॉर्प के साथ मिलकर माइक्रोसॉफ़्ट कुशलताएं सीखने के लिए व्यापक प्लेटफ़ॉर्म उपलब्ध कराएंगे और प्रतिभाओं को अवसर देंगे। फ़्यूचर रेडी टैलेंट प्रोग्राम को सीखने वालों को ध्यान में रखकर डिज़ाइन किया गया है। इसके लर्न-एप्लाई-इंप्लिमेंट (सीखें-इस्तेमाल करें-लागू करें) फ़्रेमवर्क के साथ इस प्रोग्राम में छात्रों को एंड-टू-एंड अनुभव मिलता है, यानी डिजिटल कुशलता से लेकर सैंड बॉक्स परिवेश में महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स पर काम करने तक, उद्योग के विशेषज्ञों से मार्ग दर्शन पाने से लेकर संभावित नियोक्ताओं तक पहुंचने तक।

इस सहयोग के अंतर्गत

  • माइक्रोसॉफ़्ट अपने लर्निंग प्लेटफ़ॉर्म माइक्रोसॉफ़्ट लर्न के माध्यम से हिस्सा लेने वाले छात्रों को क्लाउड कंप्यूटिंग, डेटा एवं एआई और साइबर सुरक्षा जैसे विषयों पर लर्निंग मॉड्यूल और सर्टिफ़िकेशन देगा।
  • एआईसीटीई यह सुनिश्चित करेगा कि पाठ्यक्रम राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 के मुताबिक है।
  • एसएससी नैसकॉम, संबंधित पाठ्यक्रमों को नेशनल ऑक्यूपेशनल स्टैंडर्ड के मुताबिक ढालेगा और इन पाठ्यक्रमों को फ़्यूचर स्किल्स प्राइम से जोड़ेगा।
  • ईवाई, इंटर्न शिप की अवधि के दौरान छात्रों को टैक्नोलॉजी और उद्योग से जुड़ा मार्गदर्शन उपलब्ध कराएगा।
  • गिटहब, छात्रों को गिटहब स्टुडेंट डेवलपर पैक के माध्यम से सबसे अच्छे डेवलपर टूल मुफ़्त में उपलब्ध कराएगा। इसके साथ ही, वह गिटहब पर अन्य डेवलपर्स के साथ मिलकर प्रोजेक्ट्स पर काम करने का अवसर भी उपलब्ध कराएगा।
  • क्वेसकॉर्प, सीखने वाले लोगों के अनुभव का प्रबंधन करेगी और प्रतिभागियों के लिए वर्चुअल करियर फ़ेयर आयोजित करेगी जिससे उन्हें माइक्रोसॉफ़्ट के ग्राहकों और साझेदारों के बीच करियर की संभावनाएं तलाशने का मौका मिलेगा।

उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है

इस प्रयास के बारे में अनंत माहेश्वरी, प्रेसिडेंट, माइक्रोसॉफ़्ट इंडिया ने कहा, “भारत का युवा, देश के लिए सबसे बड़े प्रतिस्पर्धी लाभ में से एक है। इन प्रतिभाओं को सही कुशलताएं देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने से हमारी लंबी अवधि की वृद्धि का आधार तैयार होगा। फ़्यूचर रेडी टैलेंट प्रोग्राम, कुशलता पाने का व्यापक अनुभव उपलब्ध कराता है जो सीखने वाले लोगों को नौकरियों के नए अवसरों से जोड़ता है। हमें इस प्रोग्राम के लिए मज़बूत साझेदारों के साथ गठबंधन करने का गर्व है जो देश में कुशलता का उभरता हुआ इकोसिस्टम बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”