जिंदगी दांव पर लगाकर यहां होती है पढ़ाई !

सोनीपत जिला से गन्नौर विधानसभा क्षेत्र के बाय गांव के पास जीवानंद एक प्राइवेट स्कूल की छत टूट कर बच्चों पर अचानक से गिर गई। इस हादसे में दर्जनों बच्चे घायल हो गए। जिनको गन्नौर के स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। कुछ अभिभावक तो अपने बच्चों को प्राइवेट हॉस्पिटलों में भी उपचार के लिए लेकर गए। फिलहाल प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी को जांच सौंप दी है।

अचानक गिरी स्कूल कि छत

सोनीपत के गन्नोर क्षेत्र में एक प्राइवेट स्कूल जीवानंद में जब बच्चे शिक्षा ग्रहण करने के लिए पहुंचे थे तो अचानक से भवन की छत टूट कर बच्चों पर गिर गई। स्कूल में अफरा-तफरी मच गई ओर आनन-फानन में बच्चों के परिजनों को जैसे ही सूचना मिली, वह अपने बच्चों को लेकर अस्पताल में उपचार कराने के लिए पहुंचे। कुछ अभिभावक तो अपने बच्चों को प्राइवेट हॉस्पिटलों में भी उपचार के लिए समय ही लेकर जाते हुए नजर आए। फिलहाल बच्चों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है और अधिकतर बच्चों को गन्नौर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया है।

स्कूल प्रशासन की तरफ से बरती गई लापरवाही

इस दौरान कुछ बच्चों ने बताया कि अचानक से छत टूट कर उनके ऊपर गिर गई और काफी बच्चे रोने लगे और उनके सिर से खून भी निकल रहा था। फिलहाल स्कूल प्रशासन इस विषय को लेकर अभी कुछ बोल नहीं रहा है। घटना की सूचना मिलते ही गन्नोर के एसडीएम सुरेंद्र दुहन पुलिस प्रशासन के साथ मोके पर पहुंचे ओर स्कूल के भवन का जायजा लिया इस दौरान एसडीएम ने बताया कि यहां स्कूल प्रशासन की तरफ से लापरवाही बरती गई है।