घी में मिलाएं ये चीज़े ले जाएगा आपके हेल्थ रेशियो को एक पायदान ऊपर

देसी घी (Desi Ghee) के बिना भारतीय भोजन का स्वाद अधूरा माना जाता है इसलिए भारतीय घी को सदियों से अपने भोजन का अभिन्न हिस्सा मानते रहे हैं। घी में मौजूद विटामिन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, मिनरल और पोटैशियम जैसे पोषक तत्व हमारे शरीर को कई तरह के फायदे पहुंचाते हैं। वहीं दाल, करी या सब्जी बनाते वक्त घी का इस्तेमाल करने से खाने का स्वाद कई गुना बढ़ जाता है। लेकिन अगर आप घी के हेल्थ रेशियो को एक पायदान ऊपर ले जाना चाहते हैं, तो ये सामग्रियां हैं जिन्हें आप इसमें मिला सकते हैं।

घी न केवल आपके भोजन को स्वादिष्ट बनाने का एक तत्व है, बल्कि स्वास्थ्य के लिहाज से यह काफी फायदेमंद भी है। वैसे आपने अब तक एक ही तरह का घी खाया, लेकिन अगर इसमें कुछ चीजों को मिला दिया जाए, तो हमें इसके 5 अलग-अलग फ्लेवर्स मिल जाएंगे।

तुलसी

अगर आप अक्सर घर में मक्खन से घी बनाते हैं, तो आप जानते हैं कि उबालते समय इससे जो गंध निकलती है, वह अच्छी नहीं लगती। उबलते मक्खन में तेज गंध को कम करने के लिए तुलसी के कुछ पत्तों को उबलते मक्खन में डालने से गंध दूर हो जाती है। ऐसा करने से न केवल दुर्गंध चली जाती है, बल्कि घी से अच्छी महक भी आने लगती है।

कपूर

घी में कपूर मिलाने के अनेक फायदे हैं। कपूर का स्वाद कड़वा-मीठा होता है और कहा जाता है कि ये तीनों दोषों वात, पित्त और कफ को संतुलित करता है। ये पाचन शक्ति को बढ़ा सकता है, आंतों के कीड़ों का इलाज कर सकता है, बुखार को रोक सकता है, हृदय गति को नियंत्रित कर सकता है और यहां तक ​​कि अस्थमा के रोगियों को भी लाभ पहुंचा सकता है। कपूर का घी बनाने के लिए घी में 1-2 टुकड़े खाने योग्य कपूर डालकर 5 मिनिट तक गर्म कर लीजिए। अब घी को ठंडा होने दें और फिर इसे एयरटाइट जार में छान लें। कपूर की महक काफी तेज होती है और ये घी के स्वाद पर हावी हो सकती है, इसलिए इससे सावधान रहें।

हल्दी

घी के साथ मिश्रित हल्दी का सुझाव कई न्यूट्रिशनिस्ट स्वास्थ्य के साथ-साथ वजन घटाने के लिए भी देते हैं । घी और हल्दी का मिश्रण नई ब्लड वेसेल्स के निर्माण में मदद करता है, हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है और किडनी के काम करने की क्षमता में सुधार करता है। सबसे जरूरी यह शरीर में सूजन को कम करने के लिए बहुत फायदेमंद है। इसका मतलब है कि घी और हल्दी का कॉम्बिनेशन प्राकृतिक रूप से सूजन का इलाज करके शरीर में होने वाले सभी प्रकार के दर्द से निजात दिलाने में कारगार है।