डेल्टा वेरिएंट बना अब और भी खतरनाक

कोरोना वायरस का डेल्टा वेरिएंट दुनियाभर में सबसे ज्यादा प्रसारित होने वाला इस वायरस का प्रमुख वेरिएंट है। यह प्रसार व संक्रमण के मामले में अल्फा, बीटा और गामा वेरिएंट्स को पीछे छोड़ रहा है। यह बात विश्व स्वास्थ्य संगठन की टेक्निकल लीड मारिया वैन कर्खोव ने बुधवार को एक कार्यक्रम में कही।

डेल्टा वेरिएंट में बदलाव

उन्होंने कहा कि डेल्टा वेरिएंट में समय के साथ बदलाव आया है और यह अधिक संक्रामक हुआ है। इस समय प्रसार के मामले में यह कोरोना वायरस के सभी वेरिएंट को सक्रिय रूप से पीछे छोड़ रहा है। कर्खोव ने एक सोशल मीडिया वार्ता में कहा, वर्तमान में अल्फा, बीटा और गामा वेरिएंट के एक फीसदी से भी कम का प्रसार हो रहा है। असल में दुनियाभर में डेल्टा वेरिएंट प्रमुख रूप से प्रसारित हो रहा है।

बाकी वेरिएंट का ले रहा स्थान

उन्होंने कहा कि यह और ताकतवर हुआ है, यह अधिक संक्रामक है और यह बाकी वेरिएंट का स्थान ले रहा है.” उल्लेखनीय है कि डब्ल्यूएचओ ने अल्फा, बीटा, गामा के साथ ईटा, आयोटा और कप्पा वेरिएंट को निचले स्तर में कर दिया है। इसका मतलब है कि अब ये वेरिएंट वैश्विक जन स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा नहीं हैं।