दलालों पर अंकुश लगाने के लिए विकास प्राधिकरण ने लगाई होर्डिंग

खबर आगरा से है जहा विकास प्राधिकरण में दलाल सक्रिय रहते हैं। लेकिन ऐसे दलालों पर अंकुश लगाने के लिए विकास प्राधिकरण ने एक सराहनीय पहल की है और इस पहल से उन दलालों पर अंकुश भी लगाया जा सकता है।  विकास प्राधिकरण ने ऐसे 9 दलालों को चिन्हित किया है। जिन्होंने उपभोक्ताओं को परेशान किया है या फिर उनके काम के एवज में कुछ लिया है।  यह लिस्ट केवल पेपर पर ही नहीं मिली बल्कि एक बड़ा होर्डिंग बनाकर विकास प्राधिकरण के गेट पर और दूसरा विकास प्राधिकरण के अंदर लगा दिया है।

सरकार कस रही शिकंजा

बिचौलियों और दलालों पर सरकार शिकंजा कस रही है। एडीए यानी आगरा विकास प्राधिकरण में दलालों के नाम की होर्डिंग लगा दी गई है। सह लिस्ट मुख्य द्वार पर लगाई गई है। लिस्ट में 9 दलालों के नाम लिखे हैं। दलालों के एडीए में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह लिस्ट एडीए वीसी आईएएस राजेंद्र पेंसिया की पहल पर लगाई गई है। विकास प्राधिकरण कार्यालय में जिस विभाग में लिस्ट में शामिल दलाल मिलेंगे वहां नियुक्त कर्मी पर भी सख्त कार्रवाई की चेतावनी का भी जिक्र होर्डिंग में किया गया है।

प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित 

होर्डिंग में लिखा गया है कि 9 दलालों का प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित है। यह दलाल जिस पटल पर बैठे पाए जाएंगे तो संबंधित पटल के कर्मचारियों के खिलाफ भी सख्त एक्शन लिया जाएगा। ताज नगरी में आगरा विकास प्राधिकरण में लगी दलालों की लिस्ट चर्चा में है। प्राधिकरण में पहली बार दलालों के खिलाफ इतनी बड़ी कार्रवाई करते हुए ना सिर्फ एडीए में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा है बल्कि सभी 9 दलालों के नाम भी सार्वजनिक कर दिए गए हैं। न्यूज़ 18 से बात करते हुए एडीए वीसी राजेंद्र पेंसिया ने कहा कि भ्रष्टाचार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जिन दलालों के नाम सार्वजनिक किए गए हैं, वह अगर ऑफिस में चहलकदमी करते दिखे तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई कर दी जाएगी।