दो साल पहले लापता हुये किशोर का पुलिस अब तक नहीं लगा सकी सुराग

 

गाँव के लोगों संग कमाने गया था किशोर

जालौन: पुलिसिया लापरवाही क्या होती है इसकी एक बानगी तब देखने को मिली जब जनपद की कालपी कोतवाली के अन्तगर्त आने वाले गाँव सोहरामऊ गाँव से करीब दो साल पहले गाँव के लोगो संग कमाने गया किशोर लापता हो गया। सूत्रों के दी गई जानकारी में किशोर के पिता रामखिलावन ने बताया कि बेटे रमेश को गाँव के ही जब्बार पुत्र गनी खान, कल्लू पुत्र जब्बार खान तथा जान मुहम्मद पुत्र गनी खान उनकी बिना अनुमति के अपने पानीपूरी कारोबार में हाँथ बटाने के लिये मेरठ लिवा ले गये थे, जहाँ से सप्ताह भर भी नहीं बीता कि बेटे के खो जाने की सूचना आई। जिसके बाद वो लोग बेटे को ढूढ़ने के लिये मेरठ भी गये लेकिन बेटा कहीं नही मिला, जिसके बाद उपरोक्त लोगों के खिलाफ बच्चे को गायब करने की रिपोर्ट भी दर्ज कराई लेकिन अब तक न बेटा मिला और न ही आरोपियों की कोई गिरफ्तारी हुई।

परिजनों का आरोप बेटे को इन्हीं लोगों ने गायब किया

करीब 2 साल से गायब चल रहे किशोर को खोज खोजकर थक चुके उसके पिता रामखिलावन व भाई अजय कुमार के मुताबिक बेटे को इन्हीं लोगों ने मिलकर गायब कर दिया है। भाई अजय ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट भी पुलिस थाने में दर्ज करायी  था लेकिन पुलिस विवेचना के नाम पर टरकाती रही और आज तक बेटे का कोई सुराग न लगा सकी। उन्होने कहा कि दो वर्ष बीत चुके हैं लेकिन पुलिस हाँथ पर हाँथ धरे बैठी है, उधर राजनैतिक संरक्षण के चलते आरोपी आज भी खुलेआम घूम रहे हैं।

क्या बोले जिम्मेदार

बेटे के गुमहोने से लेकर आज तक उसके बूढ़े हो चुके पिता ने आस नहीं छोड़ी है, उसके पिता के मुताबिक यदि पुलिस अपना काम ठीक से करेगी तो बेटा लौटकर जरूर आयेगा। उधर क्षेत्राधिकारी कालपी के.पी श्रीवास्तव का कहना है कि विवचना लम्बित है, चूंकि प्रकरण मेरठ का है और एफआईआर कालपी कोतवाली में है अत:  कई बार पुलिस टीम को जाँच हेतु मेरठ भेजा भी गया है व आगामी समय में भी भेजा जायेगा और न सिर्फ बच्चे की बरामदगी की जायेगी बल्कि जो भी आरोपी होगें उन पर कार्रवाई भी की जायेगी