आज है आश्विन कृष्ण द्वितीया तिथि, रखें इन बातों का ध्यान

आज बुधवार, आश्विन कृष्ण द्वितीया तिथि है।
आज रेवती नक्षत्र, “आनन्द” नाम संवत् 2078 है
पूर्णिमांत – आश्विन

अमांत – भाद्रपद

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, आश्विन कृष्ण पक्ष द्वितीया तिथि दिन है. सूर्य कन्या राशि में और चन्द्रमा मीन राशि में में संचरण करेंगे।

आज का पंचांग

शुक्ल पक्ष द्वितीया

कृष्ण पक्ष द्वितीया [ वृद्धि तिथि ]

22 सितंबर 05:52 AM – 23 सितंबर 06:54 AM

सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय – 6:19 AM

सूर्यास्त – 6:19 PM

चन्द्रोदय – Sep 22 7:27 PM

चन्द्रास्त – Sep 23 8:06 AM

शुभ काल

अभिजीत मुहूर्त – Nil

अमृत काल – 04:10 AM – 05:52 AM

ब्रह्म मुहूर्त – 04:43 AM – 05:31 AM

योग

वृद्धि – 21 सितंबर 02:26 PM – 22 सितंबर 01:54 PM

ध्रुव -22 सितंबर  01:54 PM – 23 सितंबर 01:48 PM

गण्डमूल नक्षत्र

22 सितंबर 05:06 AM – 23 सितंबर 06:44 AM (रेवती)

रखें इन बातों का ध्यान

-आज द्वितीया तिथि का श्राद्ध है।
-श्राद्ध कर्म करने और ब्राह्मण भोजन का समय प्रातः 11:36 बजे से 12: 24 बजे तक का है।
-श्राद्ध के समय घरघराहट की ध्वनि, ओखली के कूटने का शब्द या सूप के फटकने की आवाज नहीं होना चाहिए।
-श्राद्ध का निमन्त्रण आने पर ब्राह्मण को अपने घर या अन्य किसी के यहां भोजन नहीं करना चाहिए।
-श्राद्ध का भोजन करने वाले ब्राह्मण के आसन के आसपास काले तिल बिखेर देना चाहिए।
-श्राद्ध में देशी गाय का दूध और घी उत्तम माना गया है।
-किसी की मृत्यु होने पर जब तक उसकी बरसी (वार्षिक श्राद्ध) नहीं हो जाए, तब तक आश्विन मास के श्राद्ध पक्ष में श्राद्ध नहीं करना चाहिए। (स्कन्द पुराण)
-श्राद्ध के दिन यदि किसी का उपवास हो और रात्रि में भोजन करना है तो ब्राह्मण भोजन के बाद अपने हिस्से के भोजन को सूंघकर गाय को खिला दे, फिर रात्रि में भोजन कर ले।