दबंगो ने पिता-पुत्र को मारी गोली, 5 गिरफ्तार

बिहार के पूर्णिया (Purnia) में अपराधियों के मन में कानून का खौफ नहीं रह गया है। सोमवार को डगरूआ थाना क्षेत्र के सौरा गांव में बदमाशों ने दिनदहाड़े पिता और पुत्र की गोली (Attack On Father And Son) मार दी। इस हमले में बेटे सरोज यादव की मौत हो गई जबकि उसके पिता गजाधर यादव गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

कई बार इसको लेकर गांव में लगी पंचायत

उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। घटना के संबंध में मृतक के चाचा अयोध्या यादव ने कहा कि गांव की एक महिला का वहीं के निवासी छोटू ठाकुर के साथ अवैध संबंध (Illicit Relationship) है। इसको लेकर कई बार गांव में पंचायत भी हुई थी। इसी सिलसिले में गजाधर यादव और उनके बेटे सरोज यादव पंचायत में उन लोगों को समझाने गए थे। इस दौरान दोनों पक्षों में विवाद बढ़ गया। तभी काली मंदिर के पास छोटू के बड़े भाई शशि ठाकुर ने पहले सरोज यादव को गोली मार दी, फिर उसके पिता गजाधर यादव को गोली मार दी। दोनों को आनन-फानन में सदर अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने सरोज यादव को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस कर रही छापेमारी

इस बाबत डगरूआ थाना प्रभारी रामचंद्र मंडल ने बताया कि अवैध संबंध को लेकर दो पक्षों में विवाद हुआ। इसमें दूसरे पक्ष के लोगों ने पिता और पुत्र को गोली मार दी जिसमें सरोज यादव की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी अभय ठाकुर समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। आवेदन मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने मृतक सरोज यादव के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। इस घटना के बाद से गांव में तनाव का माहौल है। इसे देखते हुए यहां काफी संख्या में पुलिसबल की तैनाती की गई है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है।