सीएमएस को रिश्वत देने पहुंचा यूवक, हुआ गिरफ्तार

खबर अलीगढ़ से है, जहां मलखान सिंह जिला अस्पताल में बी फार्मा का छात्र सीएमएस को रिश्वत देते पकड़ा गया। 3 महीने की ट्रेनिंग के लिए छात्र लिफाफे में रूपये लेकर सीएमएस को देने पहुंचा था। सीएमएस ने आरोपी युवक को मौके पर पकड़कर पुलिस के हवाले किया। आवेदन पत्र एवं कागजात के साथ एक लिफाफा पकड़ाने की कोशिश की। सीएमएस ने पूछा कि लिफाफा में क्या है तो युवक ने छुपाने की कोशिश की। उसने कहा कि वह मर्जी से कुछ गिफ्ट दे रहा है। संयोग से उसी समय किसी काम से रसलगंज चौकी प्रभारी अजयपाल सिंह पहुंच गए।

पहले कभी नहीं देखा उसे

सीएमएस डॉ. रामकिशन ने चौकी प्रभारी को बुलाकर युवक को उनके हवाले कर दिया। सीएमएस डॉ. रामकिशन ने बताया कि फार्मेसी की ट्रेनिंग के लिए एक युवक आया था। पहले वह फार्मेसी विभाग में गया था। उसके बाद मेरे आवास पर आ गया और रिश्वत देने की कोशिश की। युवक को पुलिस के हवाले कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि युवक के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है। इस युवक को पहले कभी नहीं देखा था। चौकी प्रभारी अजयपाल सिंह ने बताया कि जांच-पड़ताल की जा रही है। उसके बाद ही इस संबंध में कुछ कहा जा सकता है। पूरा मामला थाना बन्नादेवी इलाके के मलखान सिंह जिला अस्पताल का है

कहीं सीएमएस को फंसाने की साजिश तो नहीं

युवक की कार्रवाई को कुछ लोग संदेह की नजर से देख रहे हैं। यह भी चर्चा है कि कही युवक सीएमएस को फंसाने की नीयत से तो नहीं पहुंचा था। हालांकि सीएमएस द्वारा पूछे जाने पर वह बार-बार इंकार करता रहा। पुलिस के हवाले किए जाने पर रोने-गिड़गिड़ाने लगा। उसने कहा कि वह किसी के कहने पर नहीं आया है। सीएमएस डॉ. रामकिशन ने कहा कि हो सकता है कि मुझे फंसाने के लिए किसी ने षड़यंत्र किया हो।