डेंगू के तेजी से बढ़ रहे केस

नगर सहित पूरे जिले में डेंगू तेजी से फैल रहा है। कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग के गृहनगर में ही शासकीय और निजी अस्पतालों में प्रतिदिन डेंगू के करीब 10 मरीज आ रहे हैं। गुरुवार को चार मरीज रेफर किए गए। इसके बावजूद सुवासरा में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है।मंत्री से लेकर अधिकारी डेंगू के नाम पर निकाली जाने वाली जागरूकता रैलियों और बैठकों में व्यस्त हैं। वहीं दूसरी तरफ जगह-जगह गंदगी के ढेर और भरे हुए पानी में लार्वा पनप रहा है। चिकित्सीय सूत्रों की मानें तो सुवासरा सहित जिले में चिकनगुनिया बुखार ने भी दस्तक दे दी है, लेकिन सरकारी आंकड़ों में इसे शामिल नहीं किया जा रहा है।

जगह-जगह जलजमाव पनप रहा लार्वा

डेंगू की रोकथाम के लिए शासन ने पूरे प्रदेश में बुधवार को जागरूकता रैली निकालकर जनता को सावधानी रखने का संदेश दिया। अभी नगर में कई स्थानों पर गंदगी और पानी का जमाव पसरा है, लेकिन सुवासरा में जिम्मेदार पदों पर बैठे अधिकारियों ने केवल रैली निकालकर और फ़ोटो खिंचवाकर इतिश्री कर ली। ना तो लार्वा नष्ट किया गया और न ही दवाइयों का छिड़काव किया गया। नगर में कई जगह साफ-सफाई भी नहीं हो रही है।

जिम्मेदारों का नही है ध्यान
वर्तमान में नगर परिषद में प्रशासक के रूप में तहसीलदार पदस्थ है। हालात यह है कि तहसीलदार और सीएमओ ने अब तक नगर के वार्डो में एक बार भी निरीक्षण नही किया है। लोगो की सफाई सम्बन्धी शिकायतो को भी अनदेखा किया जा रहा है। निजी अस्पताल के डॉ. रेवाशंकर जोहरी के अनुसार 5-6 केस प्रतिदिन डेंगू के आ रहे है। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मेडिकल ऑफिसर डॉ स्नेहिल जैन ने बताया कि अभी मौसमी बीमारी सर्दी, खांसी, सामान्य बुखार के साथ डेंगू बुखार के भी मरीज मिल रहे है। 4 लोगों को रैफर किया गया है। डॉ जैन के अनुसार लोगो को अपने घर के आसपास साफ सफाई और किसी भी प्रकार का पानी एकत्र नही होने देना चाहिए। घर मे भी रात्रि को सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करना चाहिए।