कुरसौली गांव में डेंगू का कहर जारी, स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही आई सामने

कानपुर में डेंगू और वायरल फीवर के मरीजों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है.शहर में डेंगू से होने वाली मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा .बात करें अगर कुरसौली गांव की तो यहां डेंगू अपना कहर बरपाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा . यहां ताबड़तोड़ एक के बाद एक  लोग काल के गाल में समा रहे हैं .बीते दिन ही गांव की कक्षा दो की छात्रा ने डेंगू के कारण अपनी जान गंवा दी… गांव के वर्तमान हालात बद से बदतर है , बावजूद इसके गांव पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम को खानापूर्ति करने से फुर्सत नहीं है. गांव के हालात जानने स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव तो पहुंची, लेकिन उचित कार्रवाई के नाम पर ग्रामीणों को सिर्फ निराशा ही हाथ लगी .शिविर लगाने के नाम पर गांव वालों की आंखों में धूल झोंकी जा रही है.हद तो तब हो गई जब गांव का निरीक्षण करने आई टीम बिना पानी के सैंपल लिए ही गांव से वापस लौट गई. गांव वालों को शिकायत है कि  उन्हें उनकी ब्लड सैंपल की रिपोर्ट भी अब तक नहीं मिली है .स्वास्थ्य विभाग के इस तरह की कार्रवाई  से ग्रामीणों में खासी नाराजगी देखी जा सकती है. वहीं दूसरी तरफ स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि 300 से अधिक लोगो की डेंगू और मलेरिया की जांच की जा चुकी है, जिनमें 26 पॉजिटिव मिले है. साफ है कि कुरसौली गांव का हालात ठीक नहीं . इके बावजूद स्वास्थ्य विभाग की यह लापरवाही कही लोगों को भारी न पड़ जाए.