कुल्हाड़ी मारकर की छोटे भाई की हत्या

 इटावा जनपद के थाना चौबिया क्षेत्र के अंतर्गत बीना गांव में देर शाम को  बड़े भाई ने छोटे भाई की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। मृतक नशे का आदी था प्रतिदिन घर में भाई और मां से झगड़ा करता था। वहीं मां ने बताया की पिता की 8 वर्ष पहले ही मृत्यु हो चुकी है। मृतक ने पहले ही  इसने अपने हिस्से की खेती नशे की वजह से बेच दी थी और वह प्रतिदिन नशे में आकर अपने बड़े भाई से झगड़ा करता था हिस्से की भी जमीन बेचने का प्रयास करता था। अब उसकी निगाह पप्पू व उनकी हिस्से की जमीन पर टिकी थी। इसी जमीन को लेकर रामचंद्र अक्सर घर में झगड़ा करता था। रविवार को भी दोनों भाइयों में झगड़ा हुआ था। तब उन्होंने दोनों बेटों को समझा कर मामला शांत करा दिया था।

यह था पूरा ममला

छोटा भाई शराब पीकर घर पर आया था और बड़े भाई से झगड़ा कर रहा था। इस पर बड़े भाई को गुस्सा आ गया। 32 वर्षीय रामचंद बाथम शाम को शराब पीकर घर आया तो वह अपने बड़े भाई पप्पू उर्फ नरेंद्र बाथम से बहस करने लगा। बहस करते-करते विवाद इतना बढ़ा कि दोनों में हाथापाई हो गई। इसके बाद बड़ा भाई पप्पू बाथम को गुस्सा आ गया। उसने कुल्हाड़ी उठाकर रामचंद्र के सिर पर प्रहार कर दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। स्वजन पास के अस्पताल में ले गए जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मां रामादेवी ने बताया कि रामचंद्र आए दिन शराब के नशे में धुत्त होकर घर पर आता था और बड़े भाई पप्पू बाथम से झगड़ा करता था। उसने अपने हिस्से की जमीन बेच दी थी और मकान भी बेचने की बात कहकर भाई से झगड़ा करता था। शाम को करीब छह बजे वह फिर शराब के नशे में आया और बड़े भाई से झगड़ा करने लगा। दोनों में हाथापाई हो गई उसके बाद बड़े भाई ने कुल्हाड़ी मार दी जिससे उसकी मौत हो गई। उसके बाद वह फरार हो गया। सूचना मिलने पर सीओ सैफई साधुराम, थानाध्यक्ष मुकेश कुमार सोलंकी मौके पर पहुंचे और जांच की। सीओ ने बताया कि भाइयों में आपस में झगड़ा हुआ है। बड़े भाई ने गुस्से में आकर छोटे भाई के सिर पर कुल्हाड़ी मार दी। घटना के बाद मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच गए।