विघ्न हरने के लिए विघ्नहर्ता से सीखें ये बातें

भगवान गणेश विघ्नहर्ता होने के साथ एक शिक्षक भी हैं। धर्म, जाति, मजहब देश की सीमाओं से परे हैं। हर साल महाराष्ट्र में गणपति उत्सव में हर जाति सम्प्रदाय के लोग जुड़ते हैं। सैंकड़ों मुस्लिम परिवार घर में गणपति विराजमान भी कराते हैं। पूरे देश में गणपति उत्सव को दीपावली से भी बड़ा त्यौहार माना जा रहा है।

1.माता पिता कि सेवा

भगवान गणेश कि पृथ्वी परिक्रमा की कहानी तो पता ही होगी। गणेश जी जैसा पुत्र जिसको भी मिल जाए, वो माता पिता धन्य हैं।

2. क्षमा ही परम गुण है

गलती होने पर सिर्फ माफी मांगना ही नही,  बल्कि अपने से छोटों और अपने साथ के लोगों को माफ करना भी आना चाहिए। जैसे भगवान गणेश ने चंद्रमा को किया था।

3. कर्तव्यों का पूरी निष्ठा से पालन करें 

कर्तव्यों का पालन पूरी तरह से करना चाहिए। ईमानदारी से अपने काम को पूरा करें। उससे भागने नही चाहिए। सफलता की यात्रा अनुभव और सबक दोनों देती है।

4. एकाग्रता

अपने किए जाने वाले काम की चैक लिस्ट होना जरूरी है। गणेश जी का आह्वान वही चैक लिस्ट की एकाग्रता को ध्यान में लाता है। कि सबसे पहले गणपति का ध्यान करें और साथ में क्या क्या काम अभी होने हैं, उसमें क्या क्या सामग्री लगेगी, ये याद कर लें। जिसके लिए एकाग्रता बहुत जरुरी है।