अडानी ग्रुप्स के शेयर ने दिया दुगने से भी ज़्यादा रिटर्न, 6 साल में 35 रुपये से बढ़कर 2701 रुपये

Multibagger stock: शेयर मार्किट में सबसे ज़्यादा जल्दी और ज़्यादा बढ़ने वाली शेयर में से एक शेयर अडानी ग्रुप्स का है, नए निवेशक अक्सर मल्टीबैगर स्टॉक की तलाश में रहते हैं। आज हमको एक ऐसे ही मल्टीबैगर शेयर के बारे में बताएंगे जिसने निवेशकों को मालामाल कर दिया। रूस-यूक्रेन युद्ध और बढ़ती वैश्विक मुद्रास्फीति के कारण अनिश्चितता के बावजूद, भारतीय शेयर बाजार ने Q4FY22 में 90 मल्टीबैगर स्टॉक दिए हैं।

वहीं, FY22 में इसने 190 से अधिक मल्टीबैगर स्टॉक दिए हैं. हालांकि, कुछ क्वालिटी स्टॉक अपने शेयरधारकों के लिए लंबे समय तक पैसा कमाने वाले बने रहे. अदानी ट्रांसमिशन के शेयर उनमें से एक हैं।

35 रुपये से बढ़कर 2701 रुपये हो गया-
पिछले एक साल में, अदानी ट्रांसमिशन शेयर की कीमत में लगभग 175 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जबकि पिछले 6 वर्षों में, यह लगभग 35 रुपये से बढ़कर 2701 रुपये हो गया है. इस अवधि में इस स्टॉक में लगभग 7700 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.पिछले एक महीने में, यह मल्टीबैगर स्टॉक 2305 से बढ़कर 2701 हो गया है। इस अवधि में लगभग 17 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. पिछले एक साल में, यह मल्टीबैगर स्टॉक ₹990 से ₹2701 तक बढ़ गया है, जो लगभग 175 फीसदी की बढ़त के साथ है. पिछले 5 वर्षों में, यह 85 रुपए से बढ़कर 2701 रुपए तक बढ़ गया है, इस अवधि में 3075 फीसदी की वृद्धि हुई है।

6 साल में मल्टीबैगर रिटर्न-
इसी तरह, पिछले 6 वर्षों में, यह मल्टीबैगर अडानी स्टॉक 34.70 रुपये (एनएसई पर 13 अप्रैल 2016 को बंद कीमत) से बढ़कर 2701 (एनएसई पर 13 अप्रैल 2022 को बंद कीमत) हो गया है. इस समयावधि में यह लगभग 78 गुना बढ़ गया यानी एक लाख रुपए 78 लाख रुपए बन गए।

शेयर के भाव हर साल बढ़ते गए
अदानी ट्रांसमिशन के शेयर की कीमत को देखा जाए तो, अगर एक निवेशक ने एक महीने पहले इस अडानी समूह के स्टॉक में 1 लाख रुपए का निवेश किया था, तो इसका 1 लाख रुपए आज 1.17 लाख रुपए हो गया होता. वहीं, 6 महीने पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में ₹1 लाख का निवेश किया होता, तो उसका ₹1 लाख आज ₹1.54 लाख हो जाता.