Prayagraj Murder: प्रयागराज में सामूहिक हत्याकांड से सनसनी, मां-बाप के साथ 3 बच्चियों को उतारा मौत के घाट

प्रयागराज: शहर से करीब 35 किमी दूर नवाबगंज में आज एक ही परिवार के पांच लोगों की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई। रात में सोते समय राहुल तिवारी (42), उनकी पत्नी प्रीति (38) और तीन बच्चों को मौत के घाट उतार दिया गया। आज सुबह जैसे ही यह खबर फैली, इलाके में हड़कंप मच गया। हत्या किसी धारदार हथियार से की गई है। 5 साल और 7 साल की दो मासूम बच्चियों का कत्ल करते समय भी हत्यारे का दिल नहीं पसीजा। बताया जा रहा है कि आज सुबह एक ही कमरे में पांच शव मिले। खागलपुर गांव में पुलिस की टीम और डॉग स्क्वायड की टीम पहुंच गई है।

शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा

तीनों बेटियों का नाम माही, पीहू और पाहु था। बड़ी बच्ची की उम्र 12 साल बताई जा रही है। पूरे इलाके में सन्नाटा पसरा है। जिले के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हुए हैं। हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल सका है। पुलिस आसपास के लोगों से सुराग निकालने की कोशिश कर रही है। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

राहुल का लटका मिला शव

बताया जा रहा है कि मृतक परिवार कौशांबी का रहने वाला है। वह नवाबगंज के खागलपुर में किराए पर कमरा लेकर रहता था। सभी की हत्या सोते वक्त की गई है। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट भी पहुंच कर जांच कर रहे हैं। घटना की तस्वीरें दिल दहला देने वाली है। मंजर ऐसा है कि हम आपको दिखा भी नहीं सकते। घर के मुखिया राहुल तिवारी का शव लटका हुआ मिला है।