देश की दो सबसे बड़ी मल्टीप्लेक्स चेन PVR और IONX Leisure हुए मर्जर, जानें दोनो कंपनी के बीच क्या हुआ समझौता

नई दिल्ली: मल्टिप्लेक्स चेन की दो सबसे बड़ी कंपनी पीवीआर (PVR) और आईनॉक्स लीजर (IONX Leisure) अब आपस में मर्जर हो गया है। दोनों कंपनियों ने मर्जर को मंजूरी दे दी है। नियामकीय सूचना में कहा गया कि इस मर्जर के बाद 1,500 स्क्रीन की सबसे बड़ी मल्टीप्लेक्स चेन अस्तित्व में आ जाएगी।

दोनों कंपनियां अपने मौजूदा मल्टीप्लेक्स का पुराने नाम से ही संचालन करेंगी जबकि संयुक्त कंपनी का नाम ‘पीवीआर आईनॉक्स लिमिटेड’ होगा। समझौते के तहत संयुक्त कंपनी में पीवीआर के प्रमोटर्स की 10.62 फीसदी जबकि आईनॉक्स के प्रमोटर्स की 16.66 फीसदी हिस्सेदारी होगी।

दोनों कंपनियों के बीच क्या हुआ समझौता-

समझौते के मुताबिक, पीवीआर के सीएमडी अजय बिजली (Ajay Bijli) को संयुक्त कंपनी के एमडी के रूप में नियुक्त किया जाएगा और संजीव कुमार एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में कार्यभार संभालेंगे. आईनॉक्स ग्रुप के चेयरमैन पवन कुमार जैन बोर्ड के नॉन-एग्जीक्यूटिव चेयरमैन के रूप में नियुक्त किया जाएगा. सिद्धार्थ जैन संयुक्त कंपनी में नॉन-एग्जक्यूटिव नॉन-इंडिपेंडेंट डायरेक्टर के रूप में भूमिका निभाएंगे।

किस मल्टीप्लेक्स की कितनी क्षमता?
देश भर में पीवीआर कुल 860 स्क्रीन के साथ देश का सबसे बड़ा मल्टीप्लेक्स चेन है. वहीं आईनॉक्स लीजर के पास कुल 667 स्क्रीन हैं. जबकि सिनेपोलिस के पास कुल 400 स्क्रीन है. इस कंपनी का मुख्यालय मेक्सिको में है। 31 दिसंबर 2021 तक पीवीआर पर कुल 1,536 करोड़ रुपए का कर्ज और 678 करोड़ रुपये की नकदी थी।

फिस्कल ईयर 2020 में कंपनी की आमदनी में जबरदस्त गिरावट आई थी. इस दौरान पीवीआर की आमदनी 3,452 करोड़ रुपए से घटकर 310 करोड़ रुपए पर आ गई. कोरोना वायरस संक्रमण के कारण कंपनी को तगड़ा नुकसान हुआ था।