YouTube ने हेल्थ वीडियो के लिए लॉन्च किए ये खास फीचर, ऐसे करेगा Fake पोस्ट से बचाव

वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म यूट्यूब (YouTube) ने हाल ही में भारत में एक शानदार फीचर लॉन्च किया है। ये फीचर हेल्थ को लेकर मिलने वाली जानकारियों के लिए है। आपको बता दे, यूट्यूब पर दो फीचर लाए गए है जिसके नाम हेल्थ सोर्स इन्फॉर्मेशन पैनल (Health Source Information Panel) और हेल्थ कंटेंट शेल्फ (Health Content Shelves) है।

फेक और रियल सोर्स डाटा को पहचाने

इनके जरिए अब लोग फेक और रियल सोर्स डाटा को आसानी से पहचान पाएंगे। इन फीचर्स का खास मतलब ये है कि हेल्थ से जुड़ी फैलाई जा रही गलत जानकारियों से लोग बच सके। वहीं इस पर अब सिर्फ विश्वसनीय जानकारियां ही जा सके। इन दोनों फीचर्स को हिंदी और इंग्लिश में पेश किया जाएगा। अभी ये फीचर सिर्फ अमेरिका में है।

एविडेंस-बेस्ड होगी जानकारियां

जानकारी के मुताबिक, यूट्यूब के हेल्थकेयर एंड पब्लिक हेल्थ के डायरेक्टर और ग्लोबल हेड डॉ गर्थ ग्राहम ने जानकारी देते हुए बताया है कि हमारा मिशन ये है कि हम हाई क्वालिटी, ऑफीशियल हेल्थ से जुड़ी जानकारियां लोगों के बीच बराबर ऑफर करें। ये जानकारियां एविडेंस-बेस्ड होगी। लेकिन बराबर जरूरी है, इसे कल्चरल, रिलीवेंट और आकर्षक होना चाहिए।

ऐसे करें पता

उन्होंने कहा कि ये नजरिया ट्रीटमेंट से जुड़ी गलत इन्फॉर्मेशन से निपटने के हमारे चल रहे प्रयासों को मजबूत करता है। ऐसे में अगर कोई भी व्यक्ति हेल्थ से जुड़ी कोई जानकारी सर्च करता है तो ये फीचर्स शुरू हो जाती हैं। हेल्थ संस्था और सरकारी संस्थाओं के वीडियो के चलते हेल्थ सोर्स इन्फॉर्मेशन पैनल’ दिखाई देंगे। ऐसे व्यक्ति कोई वीडियो देख रहा होगा तो उस वीडियो के नीचे एक लेबल दिखेगा। इसका मतलब होगा कि ये वीडियो क्रेडिट सोर्स है।