आज बीरभूम का दौरे पर सीएम ममता, गृह मंत्री अमित शाह से मिलेगा TMC का प्रतिनिधिमंडल

पश्चिम बंगाल के बीरभूम में दर्दनाक घटना की वजह से उसने बंगाल से लेकर दिल्ली तक की राजनीति गर्मा दी है. इस घटना में 8 लोगों को जिंदा जला दिया गया. अब राजनीतिक दलों के बीच वहां पहुंच कर राजनीतिक रोटियां सेंकने की होड़ भी लगी गई है. आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी घटना स्थल का दौरा करेंगी. इतना ही नहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन और बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल भी बीरभूम जाएंगा. वहीं, दिल्ली में तृणमूल कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय गह मंत्री अमित शाह से मिलेगा. इस मामले में अबतक 22 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

जेपी नड्डा को रिपोर्ट सौंपेगी कमेटी

राज्य बीजेपी के दल को रोकने के बाद दिल्ली में जे पी नड्डा ने 5 सदस्यों का एक प्रतिनिधिमंडल बनाया, जो आज बीरभूम का दौरा करेगा. इस दल में चार पूर्व आईपीएस हैं. ये टीम घटना वाली जगह पर जाएगी. सही जानकारी के साथ जांच करेगी और जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट जे पी नड्डा को सौंपेगी.

राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को हराने वाले शुभेंदु अधिकारी ने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग करते हुए केंद्र से दखल की अपील की है. केंद्र सरकार ने भी मामले को गंभीरता से लिया है. राज्य सरकार से जवाब मांगा है, जिसका नतीजा कि टीएमसी का एक प्रतिनिधिमंडल आज दिल्ली में सुबह सवा 11 बजे के करीब संसद भवन में गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेगा.

पीएम मोदी ने भी घटना पर जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी घटना पर दुख जताया है. उन्होंने कहा, ”मैं पश्चिम बंगाल के बीरभूम में हुई हिंसक वारदात पर दुख व्यक्त करता हूं. अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं आशा करता हूं कि राज्य सरकार, बंगाल की महान धरती पर ऐसा जघन्य पाप करने वालों को जरूर सजा दिलवाएगी.”

बीजेपी, कांगेस के साथ-साथ लेफ्ट भी ममता सरकार को घेरने में जुटी है. तो उधर हाईकोर्ट ने भी इस गंभीर मामले का संज्ञान लेते हुए ममता सरकार से आज दोपहर 2 बजे तक स्टेटस रिपोर्ट मांगी है. हाईकोर्ट ने घटनास्थल की 24 घंटे सीसीटीवी से निगरानी करने का निर्देश भी दिया है.