स्कूल चले हम !

लगभग 2 साल पहले देश में कोरोना  ने दस्तक दी थी. 2 साल बाद भी मौजूदा हालात यह है कि देश भर के अंदर कोरोना का कहर जारी है . कोरोना के चलते पूरा देश थम सा गया था .इसके साथ ही बच्चों की पढ़ाई पर भी गहरा असर पड़ा. कोरोना के कारण देश भर के तमाम स्कूल कॉलेज बंद हो गए. बच्चों को ऑनलाइन कक्षाएं दी जा रही थी. लेकिन बीते कुछ दिनों से स्थिति यह है कि देश में कोरोना की हालात थोड़े काबू में है .  कुछ राज्यों को छोड़कर पूरे देश में रोजाना आ रहे कोरोना मामलों में गिरावट दर्ज की गई है . इसी सिलसिले में दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में फैसला लिया गया है कि दिल्ली,यूपी,मध्यप्रदेश सहित देश के कई राज्यों में 1 सितंबर यानी आज से स्कूल खुलने जा रहे हैं. 1 सितंबर से नौवीं से बारहवीं तक के सभी स्कूल  कोरोना गाइडलाइंस के अनुसार खोलने का आदेश जारी कर दिया है. गाइडलाइन के अनुसार स्कूल के अंदर 50 परसेंट ही बच्चे क्लास के अंदर बैठ पाएंगे. बच्चों का लंच भी खुले ग्राउंड में होगा. बाहर से कोई भी व्यक्ति स्कूल के अंदर अलाउ नहीं किया जाएगा. इसके साथ ही सरकार ने यहां तक कहा है कि जिस बच्चे को स्कूल आना है वह आ सकते हैं और जिस बच्चे को स्कूल नहीं आना है वह नहीं भी आ सकते हैं . इसमें कोई भी दबाव पेरेंट्स या स्कूल के बच्चों पर बिल्कुल नहीं होगा कि उन्हें स्कूल आना ही है. दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय ने सभी निजी और गैर सहायता प्राप्त स्कूलों को निर्देशित भी किया है कि वो स्कूलों को खोलने से पहले अपने शिक्षक व कर्मियों का टीकाकरण सुनिश्चित करवाएं।

UP School Reopening News: Schools for classes 1-5 to reopen from March 1; classes for 6-8 students to begin from Feb 10