यूपी चुनाव 2022: नामांकन कर चुकी सपा प्रत्याशी ने थामा बीजेपी का हाथ, जानें क्या है मामला

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पार्टीयो से पलायन कर दूसरी पार्टी की सदस्य्ता लेने का सिलसिला अभी भी जारी है, मंगलवार को फिर से पार्टी छोड़ने का एक और मामला सामने आया है, जहां, समाजवादी पार्टी की एक उम्मीदवार ने बीजेपी का दामन थाम लिया। जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र से सपा प्रत्याशी रचना कोरी ने अपना नामांकन दाखिल करने के बाद भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है।

भारतीय जनता पार्टी के ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेई ने मंगलवार को रचना को बीजेपी की सदस्यता दिलाई. भाजपा की सदस्यता लेने के बाद रचना ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामों से काफी प्रभावित हैं. इसलिए उन्होंने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है. रचना ने आगे कहा कि भाजपा में महिलाओं को सम्मान मिल रहा है. इसलिए उन्होंने समाजवादी पार्टी छोड़ने का निर्णय लिया.

सपा उम्मीदवार ने लौटा दिया था टिकट-
इस यूपी चुनाव में ऐसा पहली बार नहीं है जब नामांकन जारी करने के बाद किसी ने पार्टी से पलायन किया हो। बहराइच जिले की मटेरा विधानसभा से समाजवादी पार्टी ने हाजी मोहम्मद रमजान को भी अपना टिकट लौटा दिया था। 3 फरवरी की सुबह उनके नाम की घोषणा हुई थी और उन्होंने बुधवार शाम टिकट लौटा दिया। न्यूज एजेंसी के मुताबिक चुनाव ना लड़ने की वजह बताते हुए हाजी मोहम्मद रमजान ने कहा था कि वह पिछले 10 साल से श्रावस्ती विधानसभा क्षेत्र में काम करते रहे हैं।

श्रावस्ती की जनता इस बार भी उन्हें वहां से चुनाव लड़ा कर जिताना चाहती थी. लेकिन उन्हें मटेरा से टिकट दे दिया गया. रमजान ने कहा था कि मटेरा विधानसभा उनके लिए नया क्षेत्र है, ऐसे में जब चुनाव के गिनती के दिन बचे हैं तो वह वहां से तैयारी कैसे कर पाएंगे।