ओवैसी के हमले पर अमित शाह ने कहा- ना हापुड़ में कार्यक्रम था, न ही आने की कोई सूचना दी थी

गृह मंत्री अमित शाह ने आज सोमवार को असदुद्दीन ओवैसी के काफिले पर जो हमला हुआ था, उसपर राज्यसभा में मंत्रालय की तरफ से बयान दिया. उन्होंने कहा कि ना तो हापुड़ में ओवैसी का कोई कार्यक्रम था और ना ही प्रशासन को उनके उस रूट से जाने की जानकारी दी गई थी. आखिर में अमित शाह ने कहा कि वह ओवैसी से विनती करते हैं कि वह सरकार की तरफ से दी जा रही सुरक्षा ले लें.

पिलखुवा में FIR भी दर्ज

ओवेसी पर हुए हमले पर बोलते हुए शाह ने कहा कि 3 फरवरी 2022 को 5.30 पर सांसद जनसंपर्क से वापस लौट रहे थे. तब 2 अज्ञात व्यक्तियों ने उनकी गाड़ी पर गोली चलाई. इस घटना को तीन गवाहों ने देखा भी था. घटना को लेकर पिलखुवा में FIR भी दर्ज हुई है. इसकी विवेचना की जा रही है.

हापुड़ में नहीं था कोई कार्यक्रम- शाह

शाह ने आगे कहा कि हापुड़ में उनका (ओवैसी) कोई कार्यक्रम नहीं था ना इसकी प्रशासन को कोई जानकारी थी. ओवेसी सुरक्षित दिल्ली पहुंच गए. फिलहाल दोनों अभियुक्तों से पूछताछ की जा रही है. ओवेसी को सुरक्षा प्रदान करने की बात कही गई. खतरे का मूल्यांकन कराया गया Z श्रेणी सुरक्षा दी गई है. लेकिन मौखिक रूप से उन्होंने सुरक्षा लेने से मना किया.