यूपी चुनाव 2022: प्रचार के लिए रोड शो, वाहन रैलियों पर लगी प्रतिबंध को चुनाव आयोग ने बढ़ाया

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान होने वाले प्रचार में कोरोना एक बड़ी बाधा बन रहा है। निर्वाचन आयोग ने कोरोना के मद्देनज़र रोड शो, पद यात्राओं, साइकिल एवं वाहन रैलियों पर रोक लगा दी थी, जिसके बाद रविवार को निर्वाचन आयोग ने विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए किए जाने वाले रोड शो, पद यात्राओं, साइकिल एवं वाहन रैलियों पर लगाए गए प्रतिबंध की अवधि को बढ़ा दिया है।

बता दे कि, चुनाव आयोग ने चुनाव में प्रचार की महत्वता को देखते हुए राजनीतिक सभाओं संबंधी नियमों में ढील दे दी। आयोग ने एक बयान में कहा कि, खुले में सभाओं, बंद भवनों में सभाओं तथा रैलियों के संबंध में प्रतिबंधों में और ढील दी गई है, लेकिन बंद सभागारों की 50 प्रतिशत क्षमता और खुले मैदान की 30 प्रतिशत क्षमता के बराबर लोग ही इनमें शामिल हो सकेंगे।

इसके अलावा, घर-घर जाकर प्रचार करने के लिए अधिकतम 20 लोगों की सीमा पहले की तरह ही लागू रहेगी। प्रचार पर रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक प्रतिबंध लागू रहेगा. देश में उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, गोवा, मणिपुर और पंजाब में विधानसभा चुनाव होना है।