अमरोहा में BSP सुप्रीमों मायावती ने सपा पर साधा निशाना, कहा- ‘दलितों- ‘पिछड़ों को समाजवादी पार्टी ने किया किनारे’

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती में प्रचार काफी देर से शुरू किया लेकिन अब जब मायावती ने शुरुआत की है तो लगातार सभा को संबोधित कर रही है। आगरा, गाज़ियाबाद के बाद आज BSP सुप्रीमों मायावती ने अमरोहा का दौरा किया, जनसभा को संबोधित करते हुए बीएसपी सुप्रीमो ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दंगों के लिए पहले की समाजवादी पार्टी सरकार पर आरोप लगाया और लोगों से इसे नहीं भूलने के लिए कहा।

इस मौके पर उन्होंने मुस्लिम वोटर्स को लुभाने के लिए अपने सांसद रहते हुए बिजनौर दंगे के दौरान की गई मदद की याद दिलाई। उन्होंने कहा कि सपा ने बीएसपी सरकार की तमाम अच्छी कोशिशों को खत्म कर दिया. जिले का नाम दोबारा बदल दिया. दंगों में पीड़ितों को सहारा नहीं दिया और जातिवादी मानसिकता की झलक दिखाई।

सपा को सिखाएं सबक-
मायावती ने मतदाताओं से उन्हें सबक सिखाने की अपील की. अमरोहा में जोया के गांव जोई में स्थित मैदान में प्रस्तावित मायावती के कार्यक्रम के लिए खराब मौसम के बावजूद बसपाई जुटे रहे। पुलिस ने भी पूर्व मुख्यमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए हैं. मायावती ने रैली के दौरान केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकार पर भी दलितों के उत्पीड़न का आरोप लगाया।

उन्होंने धर्म के आधार पर नफरत फैलाने को लेकर भी निशाना साधा. गरीबों और मजदूरों के हित में कार्यक्रम को बीजेपी सरकार की ओर से पूरा नहीं किए जाने की बात भी कही. उन्होंने आरक्षण का कोटा नहीं पूरा करने को लेकर भी राज्य सरकार को पक्षपाती कहा।