Petrol-diesel खरीदने में इस देश की मदद करेगा भारत, 50 करोड़ डॉलर की हुई डील

गहरे वित्तीय संकट से जूझ रहे पड़ोसी देश श्रीलंका को भारत ने ईंधन खरीद के वित्तपोषण के लिए 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा देने की घोषणा की है। ऐसे समय में ये डील हुई है जब हाल ही में श्रीलंका ने भारत की सार्वजनिक तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन से 40,000 टन पेट्रोल और इतना ही डीजल खरीदने का फैसला किया है।

50 करोड़ डॉलर की डील

श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में भारतीय उच्चायोग के मुताबिक, पड़ोसी देश को पेट्रोलियम उत्पादों की खरीद के लिए 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा देने के लिए करार पर साइन किए है। इस करार पर भारत के एक्जिम बैंक और श्रीलंका सरकार की तरफ से हस्ताक्षर किए गए। इस मौके पर श्रीलंका के वित्त मंत्री बासिल राजपक्षे और भारतीय उच्चायुक्त गोपाल बागले भी मौजूद थे।

ऋण सहायता देने पर सहमति जताई

आपको बता दें कि भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गत 15 जनवरी को राजपक्षे के साथ हुई वर्चुअल बैठक में श्रीलंका को ऋण सहायता देने पर सहमति जताई थी। वित्तीय संकट का सामना कर रहे श्रीलंका को तेल की खरीद के लिए फौरी राहत की जरूरत को देखते हुए भारत ने यह सुविधा देने का ऐलान किया।

विदेशी मुद्रा सहयोग

हाल ही में भारत ने श्रीलंका को 90 करोड़ डॉलर का विदेशी मुद्रा सहयोग दिया था। भारत की तरफ से श्रीलंका को ऋण सुविधा देने पर चर्चा 2021 से ही चल रही थी। यह सुविधा मिलने से श्रीलंका घटते विदेशी मुद्रा भंडार के दबाव से मुक्त होकर तेल की खरीद कर पाएगा। दिसंबर, 2021 में श्रीलंका का विदेशी मुद्रा भंडार 3.1 अरब डॉलर ही रह गया था।