गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाओं की प्रगति का बजट – स्वातंत्र देव सिंह

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  स्वतंत्र देव सिंह ने मंगलवार को अपने बयान में कहा कि केंद्रीय बजट देश की खुशहाली और उत्तर प्रदेश के विकास को और भी गति देने वाला बजट है। गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाओं की प्रगति का बजट है। यह सबके लिए हितकारी बजट है। बड़ा राज्य होने के कारण उत्तर प्रदेश को इस बजट में सबसे ज्यादा मिला है। उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को प्रदेश की जनता की ओर से धन्यवाद भी ज्ञापित किया।

किसानो को खुशहाल बनायेगा बजट

किसानों के लिए बजट में एमएसपी का कोटा 10 फीसदी बढ़ाया गया है। इससे किसानों की उपज को उनका सही दाम मिलने की सुरक्षा मिली है। गंगा किनारे जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए की गई घोषणा आत्मनिर्भर कृषि व्यवस्था की दिशा में बड़ा कदम है। केन-बेतवा लिंक परियोजना के लिए बजट में की गई घोषणा का सर्वाधिक लाभ उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड के किसानों को ही मिलने वाला है। केन-बेतवा लिंक परियोजना से किसानों की 9.08 लाख हेक्टेयर जमीनों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। बजट में की गई किसान हितैषी घोषणाओं से किसानों की आय को दोगुना करने के संकल्प को पूरा करने में मदद मिलेगी।

प्रदेश में 43 लाख लोगों को मिलें पीएम आवास

गरीबों के लिए 80 लाख नए मकान दिए जाने की घोषणा गरीब हितैषी सरकार के संकल्प को सिद्ध करने वाली है। यूपी के सर्वाधिक लोगों को इसका लाभ मिलने वाला है। सरकार ने प्रदेश में 43 लाख लोगों के लिए प्रधानमंत्री आवास दिए हैं। हर घर को नल से जल की सुविधा की योजना के तहत की गई घोषणा से भी उत्तर प्रदेश के करोड़ों परिवार लाभान्वित होंगे। इससे उन्हें साफ पीने का पानी घर पर ही मिलेगा। पोस्ट ऑफिस को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ने की घोषणा से गांव के लोग सशक्त होंगे। उनके दरवाजे पर ही उन्हें बैंकिंग की सुविधा मिलेगी।

उत्तर प्रदेश बनेगा उत्तम प्रदेश

सरकार की कर्मचारी हितैषी घोषणा के तहत राज्य सरकार के कर्मचारियों के एनपीएस खाते में नियोक्ता के योगदान पर कर कटौती की सीमा को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत करने का प्रस्ताव भी स्वागत योग्य है।एक स्टेशन एक उत्पाद की घोषणा से देश के लाखों लोगों को सीधे तौर पर रोजगार मिलेगा। देश के उत्पादों को नया मंच मिलेगा। 400 नई वंदेभारत ट्रेनों से विकास को नई दिशा मिलेगी। सबसे ज्यादा ट्रेन भी यूपी से गुजरेगी। राजमार्गों के विकास, कार्गो और लॉजिस्टिक्स पार्कों के निर्माण से भी नौकरियां आएंगी।  इसका भी सर्वाधिक लाभ यूपी को मिलने वाला है।स्टार्टअप प्रोत्साहन, एमएसएमई को प्रोत्साहन, 80 लाख नई नौकरियां युवाओं के लिए काफी मददगार साबित होंगी। इससे आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने में मदद मिलेगी। डिजिटल यूनिवर्सिटी और स्कूली शिक्षा में डिजिटल कंटेंट और शैक्षिक चौनलों के प्रसारण बढ़ाने की घोषणा भी बहुत ही उपयोगी है। कोरोना के कारण बदली परिस्थितियों में यह बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय है।ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क, 5जी शुरू करने की घोषणा इसके साथ ही सस्ते डेटा को लेकर की गई घोषणा से भी काफी लाभ होगा। मानसिक स्वास्थ मिशन की घोषणा भी नया कदम है। आंगनबड़ियों का उन्नयन, महिला सशक्तिकरण की दिशा में मिशन शक्ति को प्रोत्साहित करने के कार्यक्रम भी काफी मददगार होंगे। केंद्र की सभी योजनाओं में सर्वाधिक लाभ उत्तर प्रदेश को होने वाला है।