आइये जानते हैं कौन हैं अखिलेश यादव के खिलाफ पर्चा दाखिल करने वाले, बीजेपी नेता एसपी सिंह बघेल

पहले समाजवादी पार्टी के ही नेता थे बघेल

लखनऊ- सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव के मैनपुरी के करहल से चुनाव लड़ने के चलते हॉट सीट बनी करहल विधानसभा में बीजेपी ने अपने जिस रणबाँकुरे को उतारा है, आइये आपको रूबरू कराते हैं उन एसपी सिंह के राजनैतिक सफर से… यदि बात की जाये एसपी सिंह की जन्म भूमि की एसपी सिंह का गृहनगर इटावा है, लेकिन राजनीति में उन्होने सभी दलों व जिलों में महारत हासिल कर रखा है। एसपी सिंह बघेल साल 1998 – 2009 तक समाजवादी पार्टी के टिकट जलेसर से लोकसभा सांसद थे. इसके बाद वह बसपा में शामिल हो गए और फिर 2010 – 2014 तक राज्यसभा सदस्य थे. इसके बाद एसपी सिंह बघेल, भाजपा में शामिल हुए. साल 2015 में बघेल भाजपा ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष भी नियुक्त हुए, और अपना पदभार बखूबी संभाला था।

विधायक भी रह चुके हैं बघेल

यदि बात की जाये एसपी सिंह बघेल के राजनैतिक उठापटक की तो सांसद के अलावा विधायक भी बने हैं। आपको बताते चलें कि साल 2017 के विधानसभा चुनाव में एसपी सिंह बघेल ने बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ा और टूंडला से विधायक बनकर विधानसभा पहुँचे। बघेल साल 2019 में भाजपा के टिकट पर चौथी बार लोकसभा के सांसद चुने गए।  इस बार वह बीजेपी के टिकट पर आगरा से लोकसभा सदस्य चुने गए।  फिलहाल एसपी सिंह बघेल केंद्रीय कैबिनेट में कानून और न्याय राज्य मंत्री  हैं, और अब पार्टी के टिकट पर वो करहल से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं पर धुरंधरों के बीच में मुकाबले का सीन क्या रहेगा ये तो वक्त ही बतायेगा।