बजट सत्र 2022: अभिभाषण में बोले राष्ट्रपति कोविंद, भारत में व्यापक संभावनायें, दुनियाँ के 180 देशों में हमारी वैक्सीन

आज से हुआ बजट सत्र का आगाज

नई दिल्ली- आज से इस साल के पहले संसद सत्र का आगाज हो गया है। आज से संसत्र का पहला सत्र यानी कि बजट सत्र शुरू हो रहा है, जिसकी शुरूआत आज देश के राष्ट्रपति रामकोविंद के अभिभाषण के साथ हो गयी। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत को असीम संभावनाओं वाला देश बताते हुये कहा कि आज भारत का लोहा पूरी दुनियां मान रही है। आज दुनियाँ के 180 देशों में भारत की वैक्सीन लोगों को कोरोना से निजात दे रही है। अपने अभिभाषण में उन्होने किसानों के मुद्दे पर बोलते हुये कहा कि 1900 से ज्यादा किसान रेल चलायी  गयीं है, किसानों से रिकार्ड खरीद की गयी है, शहद उत्पादन में भी रिकार्ड बढोत्तरी हुई है, फसल बीमा योजना से भी किसानों को लाभ मिल रहा है साथ ही देश के कृषि निर्यात में रिकार्ड बढ़ोत्तरी हुई है, खेतों के पास इन्फ्राट्रक्चर बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है,  यही वजह है कि आज किसानों के जीवन में बदलाव आ रहा है।

महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी हुआ काम

अपने अभिभाषण में उन्होने कहा कि आज देश में महिलाओं के मुद्दे पर चर्चा करते हुये कहा कि आज महिलाओं के जीवन में आमूल-चूल परिवर्तन आ रहे हैं, महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी काम हुआ है, महिला पुलिसकर्मियों की संख्या में भी वृद्दि हुई है, आज तीन तलाक के कानून को खत्म कर दिया गया है। नई शिक्षा नीति पर बोलते हुये उन्होने कहा कि सैनिक स्कूलों में अब लड़कियों का नामांकन किया जा रहा है, साढ़े 4 करोड़ अल्प संख्यकों को छात्रवृत्ति दी गयी है, लड़कियों की शादी की उम्र लड़िकयों के बराबर की गयी है, नई शिक्षा नीति से आत्मनिर्भरता बढ़ी है। उन्होने कहा कि आज जनजातिय युवा भी सशक्त हो रहे हैं।

ओलंपिक में रहा भारत का शानदार प्रदर्शन

उन्होने अपने अभिभाषण में ओलंपिक का जिक्र करते हुये कहा कि ओलंपिक में  भारत का शानदार प्रदर्शन रहा है। देश के खिलाड़ियों ने दुनियाँ में भारत का नाम रोशन किया है। उन्होने कहा कि आज 5 जी कनेक्टिविटी पर काम होने के साथ ही भारत में कम दर पर इंटरनेट उपलब्ध कराया जा रहा है। गरीबों के लिये चल रही आज मुफ्त राशन योजना का जिक्र करते हुये उन्होने कहा कि आज 80 करोड़ गरीबों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है।

भारत में  बढ़ रहा विदेशी निवेश

अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति ने कहा कि आज मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में सरकार का निवेश हो रहा है, भारत में लगातार निर्यात बढ़ रहा है। उन्होने कहा कि 60 लाख से अधिक रोजगार के अवसर प्राप्त हुये हैं। नए के साथ पारंपरिक क्षेत्रों में काम किया जा रहा है। इसके अलावा उन्होने कहा कि साढ़े 13 लाख एमएसई को जीवनदान दिया गया है, आज भारत दुनियाँ की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। इसके अलावा उन्होने मेट्रो सेवा व 11 जलमार्गों की घोषणा के सहित देश में बन रहे एयरपोर्ट  के अलावा कई अन्य प्रमुख निर्माण कार्यों का भी जिक्र किया।